अटल भूजल योजना

अटल भूजल योजना क्या है, किसको और कैसे मिलेगा लाभ

» पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई  की जयंती पर केंद्र सरकार ने लॉन्च की 2 योजनाएं, 6000 करोड़ होंगे खर्च, वर्ल्ड बैंक के सहयोग से 5 साल में धरातल पर उतरेंगी योजनाएं, अटल भूजल योजना और अटल टनल योजना के नाम से शुरू हुई योजनाएं

National News : पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की जयंती विशेष पर केंद्र सरकार ने 2 नई योजनाओं को लॉन्च किया है. इसमें केंद्र सरकार वर्ल्ड बैंक और सरकार की तरफ से करीब 600 करोड़ों रुपए खर्च करेगी. अटल भूजल योजना और अटल टनल नाम से यह योजनाएं लांच की गए हैं.

 केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के मुताबिक पानी की समस्या से निपटने के लिए अटल  भूजल योजना शुरू की गई है. इस पर 5 साल में करीब ₹6000 खर्च होंगे. जिसमें करीब 3000 करोड़ रुपए वर्ल्ड बैंक देगा. जबकि इसके आधे 3000 करोड़ सरकार खर्च करेगी.

 क्या है अटल भूजल योजना? 

 केंद्र सरकार के मुताबिक इस योजना का लक्ष्य पूरे देश में भूजल स्तर को ऊपर उठाने का है. देश के दी भूजल स्तर को ऊपर लाया जाएगा. देश के उन हिस्सों में जहां पर काफी नीचे चला गया है. इस योजना का उद्देश्य है. किसानों को फायदा पहुंचाने के लिए भी केंद्र सरकार ने यह योजना लांच की है. इस योजना के तहत केंद्र सरकार किसानों की खेती के लिए पर्याप्त मात्रा में जल भंडारण सुनिश्चित करेगी. साथ किसानों की आय दोगुनी करने के उद्देश्य को पूरा किया जाएगा.

अटल भूजल योजना का किसको मिलेगा लाभ और कैसे मिलेगा

 इस योजना का लाभ 6 राज्यों को मिलेगा.  उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात और हरियाणा, राजस्थान, महाराष्ट्र  राज्यों को सरकार की योजनाओं को लाभ मिलेगा.

गौरतलब है कि देश के कई हिस्सों में भूजल स्तर लगातार नीचे जा रहा है.  निस्तारण की समस्या ही नहीं, बल्कि पेयजल की समस्या भी गहरा थी जा रही है.

बुंदेलखंड में तो किसानों के लिए पानी  काफी महंगा साबित हो रहा है. यहां के किसानों को ना सिर्फ सिंचाई के लिए बल्कि पीने के लिए भी पानी नसीब नहीं हो रहा है. गर्मी आते ही यहां हाहाकार शुरू हो जाती है. बुंदेलखंड के अलावा और भी कई क्षेत्रों में पानी की भारी समस्या देखने को मिल जाती है. ऐसे में अटल भूजल योजना काफी कारगर साबित हो सकती है.

सरकार द्वारा प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई के जन्मदिवस पर की गई योजना एक तरफ जहां किए जा रहे हैं इसका आधा केंद्र सरकार निवेश कर रही है. जबकि इसकी आधी रकम वर्ल्ड बैंक निवेश करेगा.

यह भी पढ़ें : स्टेंडअप कॉमेडियन वरुण ग्रोवर ने NRC पर लिखी कविता-हम कागज नहीं दिखाएंगे

पटियाला हाउस कोर्ट ने क्यों टाल दी निर्भया के दोषियों के फांसी की सजा पर सुनवाई?

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना में CAG ने किया भारी गड़बड़ी का खुलासा, उपभोक्ताओं को झटका

👇 अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें 👇

Share on facebook
Share on google
Share on twitter
Share on whatsapp

ये खबर आपको कैसी लगी? नीचे कॉमेंट बॉक्स में जाकर जरूर बताएं.

झांसी समाचार

ललितपुर समाचार