ललितपुर के किसान

ललितपुर में 910 किसान खुद की कंपनी बनाकर कमा रहे लाखों रुपये

ललितपुर । केंद्र व राज्य सरकार की नीतियों के तहत पारंपरिक जैविक खेती को बढ़ावा देते हुए जनपद के नौ सौ दस किसानों ने कंपनी बनाकर अपनी आय में इजाफे की ओर कदम बढ़ा दिए हैं। ह्यविकास पथ ह्य नामक फार्मर प्रोड्यूसर कंपनी के बैनर तले यह किसान बीज तैयार करके बाजार में विक्रय कर रहे हैं। इससे होने वाली आमदनी सभी शेयरधारक किसानों में बराबर-बाराबर बांटी जाती है। गोरखपुर में आयोजित राज्यस्तरीय एफपीओ सम्मेलन के दौरान स्वयं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों के इस समूह को ह्यउत्कृष्ठ कृषक उत्पादन संगठन ह्य पुरुस्कार से नवाजा है।

बुंदेलखंड स्थित ललितपुर जनपद की भौगोलिक परिस्थितियां बहुत ही विषम हैं। सर्वाधिक बांधों के बावजूद यहां सिंचाई के पानी की कमी बरकरार रहती है। सिंचाई के लिए रबी में नहरों का संचालन होता है। खरीफ फसल बारिश में भगवान भरोसे रहती है। उस पर कभी भी अचानक आने वाली प्राकृतिक आपदाएं किसानों की फसल उजाड़ा करती हैं। इसके बावजूद जनपद के लोगों का प्रमुख पेशा कृषि है और तीन लाख हेक्टेयर से अधिक क्षेत्रफल में रबी व खरीफ फसल बोई जाती है।

ऐसे में किसानों को संगठित करके उनको पारंपरिक, जैविक खेती से जोड़कर फसल की बेहतर कीमत दिलाने के लिए ह्यविकास पथ ह्य फार्मर प्रोड्यूसर आर्गनाईजेशन लिमिटेड गठित की गई। इस कंपनी में 910 किसान शेयर धारक हैं। कंपनी के सभी कृषकों ने दस लाख रुपये पूंजी जमा करके बीज व जैविक खाद उत्पादन के क्षेत्र में कदम रखा। वर्ष 2016 में इन किसानों ने विशेषज्ञों की सलाह पर बीज बनाने का काम शुरू किया। कंपनी ने राष्ट्रीय बीज निगम व उत्तर प्रदेश बीज विकास निगम के साथ अनुबंध करके किसानों को प्रमाणित बीज उपलब्ध कराना शरू कर दिया है। खेतीबाड़ी को बेहतर ढंग से संचालित करने के लिए कृषि विभाग के सहयोग से पंद्रह लाख रुपये का फार्म मशीनरी बैंक स्थापित किया। प्रशासन के साथ अनुबंध करके कंपनी ने कल्यानपुरा गौशाला में गोबर से बड़े पैमाने पर खाद बनाना शुरू कर दिया है। जिसके उपयोग से मृदा की उत्पादन क्षमता में सुधार हो रहा है। साथ ही किसानों की फसल को बाजार में बेहतर कीमत मिल रही है। सही मायने में किसानों की आय दोगुनी करने के सरकारी लक्ष्य को हालिस करने की दिशा में इस कंपनी ने कदम बढ़ाए हैं। विकास पथ एफपीओ की नींव रखने वाले मुख्य कार्यकारी अधिकारी राजेश साहू ने बताया कि किसानों की कंपनी बनाकर उनको आर्थिक रूप से संपन्न बनाने में तमाम चुनौतियां सामने आईं पर सामूहिक प्रयासों से सब आसान होता चला गया।

10 लाख की पूंजी से 02 करोड़ का कारोबार

ललितपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ किसानों की आय दुगनी करने के लिए तमाम प्रयास कर रहे हैं। इसके साथ ही जैविक खेती पर भी खासा जोर दिया जा रहा है, जिससे किसान पशुपालन से जुड़कर गोबर का इस्तेमाल करें। ह्यविकास पथ ह्य ने सरकार की इस मंशा को धरातल पर हकीकत में बदलने के लिए जीतोड़ काम किया और परिणामस्वरूप 10 लाख पूंजी वाली कंपनी अब 02 करोड़ रुपये का कारोबार कर रही है। तीन वर्ष में कंपनी ने यह उपलब्धि हासिल की।

👇 अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें 👇

Share on facebook
Share on google
Share on twitter
Share on whatsapp

ये खबर आपको कैसी लगी? नीचे कॉमेंट बॉक्स में जाकर जरूर बताएं.

झांसी समाचार

ललितपुर समाचार